Ration Card: राशन को लेकर किये जायेगे न‍ियमों में बड़ा बदलाव, अगले महीने से होगा लागू

Ration Card: राशन को लेकर किये जायेगे न‍ियमों में बड़ा बदलाव, अगले महीने से होगा लागू

Ration Card: राशन को लेकर किये जायेगे न‍ियमों में बड़ा बदलाव, अगले महीने से होगा लागू

Ration Card: यदि आप भी एक राशन कार्ड धारक है और आपके पास भी एक राशन कार्ड है और आप राशन कार्ड के जरिए आप हर महीने सरकार से मुफ्त में राशन लेते हैं तो यह खबर आपके लिए बेहद काम की है। दरअसल, सरकार की ओर से राशन के नियमों में बड़ा बदलाव किया गया है. यह बदलाव जून महीने से लागू किया जाएगा। ऐसे में हर राशन कार्ड धारक को जो सरकार से राशन लेता है उसको इस नियम के वारे में पता होना चाहिए

इस बार मिलेगा गेहूं की जगह चावल देने की तैयारी

हर राशन कार्ड धारको को केंद्र सरकार द्वारा राज्यों में राशन कार्ड धारक को मुफ्त गेहूं और चावल का वितरण करा जाता है। यह वितरण पीएम गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत किया जाता है। अब इस योजना के अंतर् गत सभी राशन कार्ड धारक को गेहूं की जगह चावल दिया जाएगा। अगर सरकार ऐसा नियम लागु करती है तो जून से आपको गेहूं कम और चावल ज्यादा मिलेंगे।

इन तीन राज्‍यों में नहीं म‍िलेगा गेहूं

मोदी सरकार ने गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत मई से सितंबर तक आवंटित होने वाले गेहूं के कोटे को कम कर दिया है। इस बदलाव के बाद यूपी, बिहार और केरल में गेहूं मुफ्त वितरण के लिए उपलब्ध नहीं होगा। वहीं, दिल्ली, गुजरात, झारखंड, एमपी, महाराष्ट्र, उत्तराखंड और पश्चिम बंगाल में गेहूं का कोटा कम किया गया है। इन राज्यों में कार्डधारकों को गेहूं कम और चावल ज्यादा मिलेगा। बाकी राज्यों में कोई बदलाव नहीं किया गया।

गेहूं की कम खरीद करने का कारण क्या है

यूपी-बिहार में गेहूं का आवंटन खत्म होने की वजह गेहूं की कम खरीद बताया जा रहा है. खाद्य सचिव सुधांशु पांडेय ने बताया कि इस दौरान करीब 55 लाख मीट्रिक टन चावल का अतिरिक्त आवंटन किया जाएगा. यह बदलाव सिर्फ पीएमजीकेएवाई के लिए है। इसका असर यह होगा कि कुछ राज्यों में गेहूं कम होगा और पहले से ज्यादा चावल दिया जाएगा।

प्रति माह 5 किलो चावल मिलेगा : प्रतापगढ़ जिले के पौने छह लाख कार्डधारकों को अब प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत गेहूं नहीं मिलेगा। गेहूं की खरीद न होने के कारण भारत सरकार ने (Ration Card) धारकों को गेहूं की जगह चावल देने का फैसला किया है. अब उन्हें सीधे प्रति यूनिट 5 किलो चावल मिलेगा। प्रतापगढ़ जिले में गेहूं खरीद के लिए 44 केंद्र खोले गए हैं. इस बार खरीदारी काफी धीमी है। 37 दिनों में करीब दो हजार मीट्रिक टन गेहूं की ही खरीद हुई है।

राशन कार्ड धारकों को महीने में दो बार मुफ्त राशन की सुविधा : राशन कार्ड धारकों को सरकार की ओर से महीने में दो बार राशन मिलता है। इसमें राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन के तहत महीने के पहले सप्ताह के बाद और प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत महीने की 15 तारीख के बाद राशन का वितरण किया जाता है.

बाद में पीएमजीकेवाई के तहत मिलेगा गेहूं : पीएमजीकेवाई के तहत जिले में हर माह 80 हजार क्विंटल गेहूं का वितरण किया जाता था, लेकिन इस बार गेहूं की खरीद कम होने के कारण शासन स्तर से इसका आवंटन रोक दिया गया है. बाकी खाद्य पदार्थ जैसे तेल आदि उपलब्ध रहेंगे यानी जून से सितंबर तक गेहूं नहीं मिलेगा. इसके बाद पीएमजीकेवाई में दोबारा गेहूं उपलब्ध होगा।

Leave a Comment

Your email address will not be published.