Ration Card: वाराणसी में जांच के दौरान 75 राशन कार्ड धारकों ने किया अपना राशन कार्ड सरेंडर, राशन कार्ड जांच की तैयारी शुरू

Ration Card: वाराणसी में जांच के दौरान 75 राशन कार्ड धारकों ने किया अपना राशन कार्ड सरेंडर, राशन कार्ड जांच की तैयारी शुरू

Ration Card: वाराणसी में जांच के दौरान 75 राशन कार्ड धारकों ने किया अपना राशन कार्ड सरेंडर, राशन कार्ड जांच की तैयारी शुरू

वाराणसी : वाराणसी में जांच के दौरान 75 राशन कार्ड धारकों ने किया अपना राशन कार्ड (Ration Card) सरेंडर, राशन कार्ड जांच की तैयारी शुरू, राशन कार्डों का सत्यापन शुरू होने से पहले ही शहरी-ग्रामीण क्षेत्रों के 75 उपभोक्ताओं ने पात्र घरेलू कार्ड (राशन कार्ड) को सरेंडर कर दिया है। कुछ लौटने को तैयार हैं। हाल ही में जिला आपूर्ति अधिकारी की ओर से जिले के छह लाख उपभोक्ताओं से अपील की गई थी कि वे निर्धारित मानकों के अंतर्गत नहीं आने पर उनके राशन कार्ड वापस कर दें. जिससे पात्र को इसका लाभ मिल सके। अन्यथा जांच में पकड़े जाने पर वसूली की कार्रवाई की जा सकती है। इसके अलावा अन्य कानूनी कार्रवाई भी संभव है।

Ration Card: वाराणसी में जांच के दौरान 75 राशन कार्ड धारकों ने किया अपना राशन कार्ड सरेंडर, राशन कार्ड जांच की तैयारी शुरू
Ration Card: वाराणसी में जांच के दौरान 75 राशन कार्ड धारकों ने किया अपना राशन कार्ड सरेंडर, राशन कार्ड जांच की तैयारी शुरू

अधिकारियों का कहना है कि पिछले कई महीनों से जिला आपूर्ति कार्यालय में जिलाधिकारी की जनसुनवाई में शिकायतें आ रही हैं कि अपात्र लोग राशन की दुकान से अनाज उठा रहे हैं. जबकि पात्र का (Ration Card) राशन कार्ड नहीं बन रहा है। एकीकृत शिकायत निवारण प्रणाली यानी आईजीआरएस पोर्टल पर भी दर्जनों गांवों के लोगों ने अपात्र खाद्यान्न उठाये जाने की शिकायत की है. कुछ लोग चार पहिया वाहनों पर बैठकर राशन की दुकान से अनाज लाते हैं। शिकायत यह भी है कि कुछ लोग अनाज को दुकान से ले जाकर बेचते हैं। इन शिकायतों पर संज्ञान लेते हुए सरकार ने पूरे राज्य में राशन कार्डों की जांच के निर्देश जारी किए हैं.

ये लोग नहीं ले सकते है राशन

आयकर जमाकर्ता राशन की दुकान से खाद्यान्न नहीं ले सकते। इसके अलावा सरकारी कार्यालयों में पदस्थ चतुर्थ श्रेणी सहित उपरोक्त सभी कर्मचारी अधिकारी भी खाद्यान्न प्राप्त करने के लिए जद में नहीं होंगे। दस हजार रुपये पेंशन पाने वाले भी राशन की दुकान से अनाज नहीं ले सकते। इसके अलावा सांसद, विधायक समेत अन्य जनप्रतिनिधि भी इसका फायदा नहीं उठा सकते। अगर आपके घर में एसी और फोर व्हीलर है तो भी आप पीडीएस की दुकान से राशन नहीं ले सकते।

सरकार ने जांच के आदेश दे दिए हैं।

सरकार ने जांच के आदेश दे दिए हैं। इस संबंध में जिले को पत्र भी मिल चुका है। ग्राम स्तर पर सचिव लेखपाल व अमीन तथा नगरीय क्षेत्रों में नगर निगम, राजस्व एवं आपूर्ति विभाग के अधिकारी जांच करेंगे। जांच में जो भी अपात्र पाया जाएगा उसका राशन कार्ड (Ration Card) रद्द कर दिया जाएगा। साथ ही वसूली समेत अन्य कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page